अखिलेश यादव के करीबी पूर्व सपा विधायक के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट

भदोही। उत्तर प्रदेश के भदोही जिले के पूर्व सपा विधायक जाहिद जमाल बेग के खिलाफ एमपी-एमएलए अदालत की तरफ से गिरफ्तारी का गैर ज़मानती सम्मन जारी हुआ है। एक जनहित के मसले को लेकर 1998 में संघर्ष के दौरान भदोही कोतवाली में यह मामला दर्ज किया गया था। बेग सपा प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बेहद करीबी माने जाते हैं।

समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक जाहिद बेग को अदालत की तरफ से 30 सितंबर को पेश होने को कहा गया है।गैर जमानती वारंट जारी किये जाने पर पूर्व विधायक की मुश्किलें बढ़ गई हैं। 2012 से 2917 तक भदोही से समाजवादी पार्टी से विधायक रहे जाहिद जमाल बेग पहले से ही समाजवादी पार्टी के लिए संघर्ष करते रहे हैं। साल 1998 में भदोही कोतवाली में पूर्व विधायक पर अपराध संख्या 636/98 के मुकदमे में आईपीसी की धारा 147, 353, 341, 188, 504 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था।

इसी मामलें में प्रयागराज की स्पेशल एमपी-एमएलए अदालत ने पूर्व विधायक के खिलाफ गिरफ्तारी का सम्मन जारी किया है। पूर्व विधायक ने यह बात स्वीकारी है कि अदालत की तरफ से सम्मन जारी हुआ है और 30 सितंबर को पेशी है।

पूर्व विधायक अखिलेश यादव के बेहद करीबी माने जाते हैं। हाल में अखलेश यादव के भदोही आगमन पर भी बेग काफी सुर्खियों में रहे। विधायक के पिता युसूफ बेग भदोही से सांसद भी रहे। समाजवादी सरकार में जाहिद बेग विधायक आवास से विधानसभा साइकिल से पहुंचते थे। उस दौरान इस खबर को लेकर काफी सुर्खियों में रहे। फिलहाल अदालत की तरफ से गैर ज़मानती सम्मन जारी होने से पूर्व विधायक की मुश्किलें बढ़ गईं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here