अब सभी 12 सरकारी बैंकों की लिपिकीय भर्तियां 13 क्षेत्रीय भाषाओं में होगी

नई दिल्ली। वित्त मंत्रालय ने सार्वजनिक क्षेत्र के 12 बैंकों के लिए लिपिकीय भर्तियों और विज्ञापित रिक्तियों के संदर्भ में बड़ी सिफारिश की है। मंत्रालय ने देर रात की गई सिफारिश में कहा है कि अब प्रारंभिक और मुख्य, दोनों परीक्षाएं हिंदी और अंग्रेजी सहित 13 क्षेत्रीय भाषाओं में आयोजित की जाएंगी।

वित्त मंत्रालय के मुताबिक क्षेत्रीय भाषाओं में लिपिकीय परीक्षा आयोजित करने का यह निर्णय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) की आगामी रिक्तियों पर भी लागू होगा। लेकिन, पहले से विज्ञापित एवं ऐसी रिक्तियां जिनके लिए प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की जा चुकी है या उनकी भर्ती प्रक्रिया चल रही है, वे विज्ञापन के अनुसार ही पूरी की जाएंगी।

मंत्रालय ने यह निर्णय सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में क्षेत्रीय भाषाओं में लिपिक संवर्ग के लिए परीक्षा आयोजित करने के मामले पर विचार करने के लिए मंत्रालय द्वारा गठित एक समिति की सिफारिश पर लिया है। गौरतलब है कि वित्त मंत्रालय ने आईबीपीएस द्वारा शुरू की गई परीक्षा आयोजित करने की मौजूदा प्रक्रिया को समिति की सिफारिशें उपलब्ध कराए जाने तक रोक कर रखा गया था।

उल्लेखनीय है कि इस समिति ने स्थानीय युवाओं को रोजगार के अवसरों के लिए एक समान अवसर प्रदान करने और स्थानीय और क्षेत्रीय भाषाओं के माध्यम से ग्राहकों के साथ अधिकाधिक जुड़ने के उद्देश्य से काम किया है। क्षेत्रीय भाषाओं में लिपिकीय परीक्षा आयोजित करने का यह निर्णय आगामी एसबीआई रिक्तियों पर भी लागू होगा, जो पहले से विज्ञापित रिक्तियों के लिए चल रही भर्ती प्रक्रिया के पूरा होने के बाद होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here