इमारत में लगी भीषण आग, 18 छात्रों समेत अब तक 20 की मौत, छात्रों का इमारत से कूदने वाला वीडियो हुआ वायरल

गुजरात के सूरत में शुक्रवार को एक चार मंजिला व्यवसायिक परिसर में अचानक भीषण आग लगने से 18 छात्रों समेत अब तक 20 लोगों की मौत हो गई है आपको बता दें ये सभी छात्र वहां कोचिंग के लिए आए थे और इनमें से अधिकतर छात्रों की मौत घबराहट में तीसरी और चौथी मंजिल से नीचे कूद जाने के कारण हुई है, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर सुर्खियों में बना हुआ है। प्राथमिक तौर पर आग लगने का कारण वायरिंग में शॉर्टसर्किट को माना जा रहा है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सूरत के सरथना इलाके में स्थित तक्षशिला कांप्लेक्स की तीसरी और चौथी मंजिल पर दोपहर को अचानक आग लग जाने से हड़कंप मच गया। बिल्डिंग में कई दुकानें और कोचिंग सेंटर भी हैं और इस हादसे के वक्त इमारत के अंदर 50 से अधिक छात्र और शिक्षक मौजूद थे। आग की लपटें अचानक इसकदर बढ़ी के लपटों को देखकर वहां आए छात्रों ने जान बचाने के लिए तीसरी और चौथी मंजिल से नीचे छलांग लगा दी।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो और स्थानीय लोगों के अनुसार, छात्रों की मौत की वजह बिल्डिंग से कूदने को बताया जा रहा है। वहीँ सूचना पर पहुंची करीब 18 दमकल की गाड़ियों ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। वहीं, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने भी कहा कि, ज्यादातर छात्रों की मौत दम घुटने या फिर बिल्डिंग से कूदने की वजह से हुई है और हमने जांच के आदेश दे दिए हैं।

वहीँ इस हादसे के जिम्मेदार लोगों को बख्शा नहीं जाएगा और सूरत के पुलिस कमिश्नर सतीश कुमार मिश्रा ने बताया कि, मृतकों की संख्या अभी और बढ़ सकती है। 

जैसा की आपको हमने ऊपर भी बताया कि घटना का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें साफ तौर पर छात्र बिल्डिंग से कूदते हुए दिखाई दे रहे हैं। दमकल अधिकारी ने बताया कि, आग से खुद को बचाने के लिए करीब 10 से ज्यादा छात्र तीसरी और चौथी मंजिल से कूद गए, जिन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया। वहीँ मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने जांच के आदेश देने के साथ ही मृतक छात्रों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा भी की है, रुपाणी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा से भी बात की है और नड्डा ने एम्स ट्रामा सेंटर के निदेश को हर मदद के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए हैं। वहीँ दिल्ली एम्स में भी डॉक्टरों की एक टीम को अलर्ट रखा गया है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी हादसे पर जताया दुख 

‘सूरत में आग की घटना से बेहद व्यथित हूं और मेरी संवेदना पीड़ित परिवारों के साथ हैं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं और मैंने गुजरात सरकार और प्रशासन से पीड़ितों को हर संभव मदद देने को कहा है।’

घटना पर राहुल गांधी ने भी दुख जताया है

इस घटना पर PM नरेंद्र मोदी के साथ ही गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here