इस चुनावी माहौल में एक प्रधानमन्त्री से क्या चाहती है CBSE टॉपर करिशमा अरोरा

146

उत्तर प्रदेश का मुजफ्फरनगर हमेशा नेगेटिव खबरों के लिए सुर्खियों में आता है। हिंदू-मुस्लिम की राजनीति और संप्रदायिक दंगों का दंश झेल रहा मुज़फ्फरनगर पहली बार किसी पॉजिटिव खबर की वजह से सुर्खियों में है और इसकी वजह है करिशमा अरोरा जिसने CBSE के 12वीं बोर्ड में 500 में से 499 अंक हासिल कर मिसाल कायम की है।

करिशमा अरोरा कत्थक डांसर भी है और वह आगे चलकर समाज के लिए अपना योगदान भी देना चाहती है। इन ही सब मुद्दे पर हमने आॅल इंडिया टॉपर करिशमा अरोरा से बात की।

500 में से 499 अंक हासिल करने वाली करिशमा से जब हमने पूछा कि, 1 अंक कैसे छूट गया तो उन्होंने हल्के फुल्के अंदाज में कहा यह एक मार्क इकोनॉमिक्स में कम आए, लेकिन कोई बात नहीं यह 1 नंबर शगुन का कट गया।

देश में चल चुनावी माहौल को ध्यान में रखकर जब हमने उनसे पूछा कि अगर उनको देश का प्रधानमंत्री बना दिया जाए तो उनका फोकस किन मुद्दों पर होगा….करिशमा जवाब देते हुए कहा कि वे महिला सशक्तिकरण पर काम करना चाहेंगी साथ ही उन्होंने कहा कि वे ग्रामीण क्षेत्र मानसिक स्वास्थ्य पर फोकस करेंगे जहां लोग दिनों-दिन टेंशन, स्ट्रेस में आ रहे हैं।

वहीं डांस के सवाल पर करिशमा ने कहा कि, वह कुछ इस “डांस फॉर्म” इज़ाद करना चाहती है जो बिल्कुल नया हो। करिश्मा बचपन से ही पढ़ाई के साथ-साथ डांस में भी अव्वल रही है। वह लगातार अलग-अलग जगह ओर प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करती रही है। उन्होंने पढ़ाई के साथ अपने इस शौक को पाले रखा और आज करिश्मा इसे ओर भी आगे तक ले जाना चाहती है।

करिश्मा के मम्मी और पापा कहते है कि करिश्मा को हमने कभी भी उसकी इच्छाओं ओर ख्वाहिशों से समझौता नहीं करने दिया जो उसको करना था खुलके उसका साथ दिया शायद यही कारण है कि करिश्मा ने आज ये “करिश्मा” कर दिखाया जो एक सपने के सच होने जैसा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here