उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त विद्यालय महासभा के बैनर तले शिक्षकों का मंडलीय अधिवेशन किया गया आयोजित,जिसमे अधिवेशन के दौरान शिक्षकों ने बताई अपनी समस्या !

67

मुज़फ्फरनगर : भोपा रॉड स्तिथ पंजाबी बारात घर मे उत्तर प्रदेश प्राप्त विद्यालय महासभा के बैनर तले शिक्षकों का एक दिवसीय मंडलीय अधिवेशन का आयोजन किया,जिसमे मंडल क्षेत्र से जुड़े समस्त शिक्षक मौजूद रहे।इस मंडलीय अधिवेशन में विभिन्न क्षेत्रों से आए हुए शिक्षकों ने शिक्षा के क्षेत्र में हो रही समस्याओं से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया।इस दौरान सहारनपुर मंडल के अध्यक्ष सतीश शर्मा ने बताया कि सरकार के द्वारा जो नई परिवहन नीति लागू की गई है वह बहुत ही अच्छी है लेकिन इस नीति को लागू करने में जो खर्चा आएगा व्व सीधा अभिभावक की जेब पर डाका डाला जाएगा।इसलिए हम चाहते है कि हमारे कुछ बिंदु है जिन्हें संशोधन किया जा सकता है,जैसे प्रत्येक स्कूल वाहन में महिला परिचायिका की उपस्थिति अनिवार्य कर दी गयी है,जिसकी उपलब्धता बहुत मुश्किल है,इससे विद्यालय के ऊपर अपरोक्ष एवं अभिभावकों के ऊपर परोक्ष रूप से अधिभार बढ़ेगा।प्रत्येक स्कूल वाहन में शिक्षक की उपस्थिति अनिवार्य कर दी गयी है,जो पूर्णतः विद्यालय शिक्षक व्यवस्था को प्रभावित करेगी।प्रत्येक स्कूल मे परिवहन सुरक्षा समिति का गठन किया गया है,जिसकी सरंचना व्यवहारिक नही है।स्कूल वाहन में प्रत्येक बच्चे को सीट बेल्ट लगाना अनिवार्य कर दिया गया है।पुराने अधिनियम के तहत प्रत्येक स्कूल वाहन में सिटिंग क्षमता से 1.5 गुणा तक बच्चे बैठाने का प्रावधान था,जिसको वर्तमान अधिनियम में घटाकर प्रति सीट के हिसाब से कर दिया गया है,इसलिए हम सभी शिक्षक चाहते है कि इन बिंदुओं पर पुनः विचार किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here