कानपुर में परचून दुकानदार की पत्नी-बेटे समेत हत्या, रहस्य खंगाल रही पुलिस

कानपुर। जनपद के फजलगंज थाना इलाके में दम्पति का बेटे सहित तीन लोगों का शव घर के बाहर दुकान में मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस फॉरेंसिक के साथ जांच करते हुए साक्ष्य जुटा रही है। इलाकाई लोग घटना को हत्या बता रहे और मौके पर भारी भीड़ जमा है। वहीं पुलिस गहन छानबीन करते हुए हत्या या आत्महत्या के बिन्दुओं को खंगाल रही है।

फजलगंज इलाके में स्थित शताब्दी ट्रैवल्स के पास ऊचवां मोहल्ले में रहने वाले राज किशोर (45) परिवार के साथ रहते थे। घर के बाहर की इनकी परचून की दुकान है। शनिवार को पड़ोसियों ने दुकान न खुलने पर शक हुआ और किसी तरह से दुकान में अंदर देखा तो जमीन पर परचून दुकानदार, उसकी पत्नी गीता (40) व 12 वर्षीय बेटे नैतिक को बेहोशी की हालत में जमीन पर पड़े थे। शक के आधार पर क्षेत्रीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर इंस्पेक्टर अजय प्रताप सिंह पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे और दुकान का शटर खोला गया तो अंदर तीनों के शव पड़े देख सभी के होश उड़ गए। तिहरे हत्याकांड की सूचना पर लोगों की भीड़ जमा हो गई।

बेटे समेत दम्पति के शव दुकान व कमरे में बीच में पड़े थे। प्रथम दृष्टया पुलिस हत्या व आत्महत्या के बीच घटना को मानते हुए फॉरेंसिक टीम को बुलाकर मौके से गहनता साक्ष्य जुटाते हुए जांच में जुट गई है। पुलिस रंजिश व पारिवारिक कलह के बिन्दुओं पर छानबीन कर रही है।

घटना बनी पुलिस के लिए चुनौती

जनपद में बीते दो दिनों में फजलगंज में मिले दम्पति व बेटे का तिहरा हत्याकांड हो या कोई और कारण, लेकिन पुलिस के लिए घटना बड़ी चुनौती बन गया है। बीते दो दिनों में जनपद में तिहरे हत्याकांड सहित छह लोगों की हत्या की घटनाएं सामने आई। पहली घटना सचेंडी में प्रधानी चुनाव को लेकर गोली मारकर की गई। दूसरी घटना शुक्रवार को सपा नेता की बर्रा इलाके में गोली मारकर कार सवारों ने अंजाम दी। फजलगंज में नशेबाजी को लेकर युवक की पीट-पीटकर हत्या की घटनाएं सामने आ चुकी है। कानपुर कमिश्नरेट में आने वाले थाना अंतर्गत घटनाओं के आंकड़ों के अनुसार बीते 24 घंटे में फजलगंज के तिहरे हत्याकांड को मिलाकर पांच लोगों की हत्याओं की घटनाएं सामने आई हैं, जो पुलिस सक्रियता पर सवाल उठा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here