दोनों युवकों ने अपनी प्रेमिकाओं से मिले जवाब से नाखुश होकर की आत्महत्या

उत्तर प्रदेश। जनपद मुजफ्फरनगर की शाहपुर पुलिस ने दोहरे हत्याकांड की उलझी गुत्थी को छ दिन में ही सुलझा कर घटना का अनावरण कर दिया है आज थाना परिसर में एसपी देहात अतुल श्रीवास्तव व क्षेत्राधिकारी बुढाना विनय गौतम ने प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि 13 अक्टूबर को ग्राम दुलैहरा में किसान किरण पाल के नलकूप पर गांव के ही दीपक व पारस की गोली लगे शव मिले थे गांव में दोनों की हत्या किए जाने को लेकर चर्चा हो गई थी सूचना पर पहुंची पुलिस ने तत्काल ही घटना के अनावरण का प्रयास करते एसओजी व शाहपुर पुलिस को घटना का खुलासा करने के लिए नियुक्त किया था घटना की जांच करने पर पता चला कि दोनों ने अपनी प्रेमिकाओं द्वारा शादी नहीं किए जाने से नाराज होकर आत्महत्या की है एसपी देहात अतुल श्रीवास्तव ने बताया कि मृतक दीपक उर्फ छोटू पुत्र किरणपाल 11 अक्टूबर को अपनी प्रेमिका के साथ कस्बा शामली में स्थित ओरचिड होटल में अपने जन्मदिन की पार्टी मनाई वहीं पर उसकी प्रेमिका के द्वारा उससे कहा गया कि मेरी शादी हो चुकी है तुम भी अपने जीवन में आगे बढ़ जाओ आज के बाद मुझसे मत मिलना इस बात से दीपक दिमाग में तनाव रखने लगा, दिनांक 12 अक्टूबर को मृतक दीपक व उसका दोस्त मृतक पारस पुत्र कृष्ण पाल निवासी ग्राम दुलैहरा थाना शाहपुर जनपद मुजफ्फरनगर के साथ पारस की प्रेमिका से मिलने मेरठ मोदीपुरम में रेस्टोरेंट में पार्टी की जहां पर पारस की प्रेमिका के द्वारा पारस को बताया गया कि मेरी सगाई हो चुकी है अब आज के बाद तुम मुझसे मत मिलना जिसके पश्चात मृतक पारस व मृतक दीपक उपरोक्त शाकुंभरी देवी जनपद सहारनपुर मंदिर पर दीपक की प्रेमिका से मिलने गए और दीपक ने अपनी प्रेमिका से देवी पर अपने साथ प्रसाद चढ़ाने की विनती की लेकिन दीपक की प्रेमिका ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया और कहा कि वह अपने पति और परिवार के साथ ही प्रसाद चढाएगी और अब उसकी शादी हो चुकी है इस संबंध में आगे कुछ भी बात नहीं करना चाहती दीपक वहीं से परेशान होकर वापस चल दिया और पल्सर मोटरसाइकिल से वापस कस्बा शाहपुर लौटकर शराब का अत्यधिक सेवन किया तथा अपने मित्रों से तमंचा व कारतूस का इंतजाम कर दीपक व पारस उपरोक्त ने अपने नोएडा करनाल माजरा गांव में स्थित अपने दोस्तों को फोन पर अपनी सारी घटना को बयान किया और कहा कि प्यार में धोखा मिलने के कारण हम दोनों अपनी जीवन लीला समाप्त कर रहे हैं और दोस्तों से कहा कि यह हमारा आखरी दिन है दीपक ने पहले पारस को गोली मारी और फिर खुद को गोली मार दी दीपक ने कहा कि पारस और वह बचपन के दोस्त हैं वह अपनी दोस्ती भी निभायेंगे और प्यार में मिले धोखे का बदला भी लेंगे हम दोनों का खाना पीना संग रहा है इसलिए मौत भी दोनों की साथ साथ ही आएगी घटना के अनावरण में प्रभारी निरीक्षक अभिषेक कुमार सिरोही तथा उनके साथ सर्विलांस के प्रभारी निरीक्षक संजीव यादव एसएसआई निर्दोष त्यागी उप निरीक्षक वीरेंद्र कुमार उप निरीक्षक प्रदीप नादर एसआई नितिन कुमार अमित कुमार और विकास कुमार का विशेष योगदान रहा उक्त टीम ने एसएसपी के निर्देशन में तथा क्षेत्राधिकारी बुढाना विनय गौतम के नेतृत्व में काम किया क्षेत्रवासियों के लिए यह अनोखी घटना है जिसमें दो युवकों की मौत भी हो गई और घटना का अनावरण भी हो गया लेकिन हत्या से आत्महत्या में घटना बदल जाने से कोई मुलजिम जेल नहीं गया पुलिस ने परिजनों को सर्विलांस के माध्यम से कॉल रिकॉर्डिंग द्वारा तथा वीडियो कॉलिंग द्वारा संतुष्ट कर दिया जिससे परिजनों का यह आरोप भी खत्म हो गया है कि उनके बच्चों को किसी व्यक्ति ने गोली मारी है क्षेत्रवासियों ने आज एसपी देहात थाना प्रभारी निरीक्षक को सही घटना के अनवर होने पर बधाई दी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here