पर्यटकों और अमरनाथ यात्रियों को जल्द घाटी छोड़ने की सलाह

77

कश्मीर: घाटी में सुरक्षा बलों की 380 अतिरिक्त कंपनियां भेजे जाने को लेकर आशंकाओं के बीच राज्य प्रशासन की ओर से पाक आतंकी हमले के अंदेशे पर अमरनाथ यात्रियों से तत्काल घाटी छोड़ने को कहा गया है। 15 अगस्त तक चलने वाली अमरनाथ यात्रा को पहले ही चार अगस्त तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

राज्य और केंद्र सरकार द्वारा सेना को राज्य में भेजे जाने से स्थानीय नेता परेशान नज़र आप रहे है ! चाहे जो भी हो सुरक्षा से लिहाज़ से सेना को तैनात किया गया है और अमरनाथ यात्रियों को वापसी के लिए कहा है !

अमरनाथ यात्रियों तथा पर्यटकों को राज्य प्रशासन की ओर से एडवाइजरी जारी कर उन्हें जल्द से जल्द सुरक्षित स्थान पर जाने को कहा गया है। इस बीच अमरनाथ यात्रा मार्ग पर स्नाइपर राइफल, पाक सेना आर्डिनेंस फैक्ट्री निर्मित लैंडमाइन मिला है। सेना ने दावा किया है कि आतंकियों के निशाने पर अमरनाथ यात्री थे। सेना और वायु सेना को अलर्ट पर कर दिया गया है। इस बीच अमरनाथ यात्रा मार्ग से टट्टू तथा लंगर वाले लौटने लगे हैं।

आतंकियों की ओर से हिंसा के मिले इनपुट: डीजीपी

डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा है कि आतंकियों की ओर से हिंसा की घटनाओं के इनपुट मिले हैं। इस वजह से जमीनी स्तर पर काउंटर इंटेलिजेंस ग्रिड को और मजबूत किए जाने की जरूरत है। उन्होंने अतिरिक्त बलों की संख्या बताने से इनकार करते हुए कहा कि पहले से तैनात जवानों को कुछ समय के लिए आराम करने का मौका दिया जाएगा। चुनाव तथा अन्य कारणों से सुरक्षा बल वर्ष पर्यंत ड्यूटी पर रहे हैं। उन्हें किसी प्रकार का आराम नहीं मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here