पुलवामा हमला : गुस्सा व गम के साथ कैंडल मार्च व शोक यात्राएं निकाली गई

119

मुज़फ़्फ़रनगर: पूरे देश को झकझोर देने वाले पुलवामा हमले के बाद लोगों में गम और गुस्सा देखने को मिल रहा है। हमले के बाद सोशल साइट्स पर लगातार आतंकवाद एवं पाकिस्तान का विरोध देखने को तो मिल ही रहा था उसके अलावा शुक्रवार को जनपदभर में विभिन्न स्थानों पर कैंडल मार्च निकाला गया तो कहीं मौन व्रत रखकर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। बहुत सी मुस्लिमो की मस्जिदों में जुमे की नमाज़ के बाद शहीद सैनिकों व घायलों के लिए दुआएं की गई। शहर के कई स्थानों पर पाकिस्तान और आतंकवाद के पुतले फूंके गए साथ ही पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए गए। शहर के शिवचौक पर सपा नेताओं द्वारा पाकिस्तान मुर्दाबाद की तख्तियां लेकर सपाइयों ने पाकिस्तान का पुतला फूंका व तुलसी पार्क में मोमबत्ती जलाकर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की।
इस दौरान सपा नेता शमशेर मलिक ने कहा कि पूरा देश का विपक्ष केंद्र सरकार के साथ है। और में मांग करता हूँ के सरकार आतंकियों को कड़ी से कड़ी सजा दे। समाजवादी से अलीम सिद्दीक़ी, असद पाशा,राशिद मलिक,राकिब कुरैशी व फैसल राणा आदि भी मौजूद रहे।

शमशेर मलिक सपा नेता

इसके अलावा शहर के मीनाक्षी चौक पर सामाजिक संस्था पैग़ाम ए इंसानियत के पदाधिकारियों द्वारा आतंकवाद का पुतला जलाते हुए वरिष्ठ समाजसेवियों द्वारा हाथ पर काली पट्टी बांधकर शोक यात्रा की।

अलग अलग संस्थानों द्वारा कैंडल मार्च व पुतला फुंकते के साथ साथ युवाओं के अंदर भारी आक्रोश देखने को मिला। सभी प्रकार की रैलियां, नारेबाज़ी, पैदल यात्रा, विरोध इत्यादि के हर तरफ पुलिस प्रशासन मुस्तैद रहा। सभी कैंडल मार्च में पुलिस बल अलर्ट देखने को मिला। मीनाक्षी चौक पर शहर कोतवाली क्षेत्र की खालापार चौकी प्रभारी विनय शर्मा व सिविल लाइन थाना पुलिस भी अलर्ट दिखी। साथ ही ट्रैफिक पुलिसकर्मियों द्वारा यातायात व्यवस्था दुरुस्त रखने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here