पुलिस के हत्थे चढ़े अवैध तमंचे बनाने वाले 9 तस्कर

565

मुज़फ्फरनगर: मुज़फ्फरनगर मौत का सामान बनाकर बेचने वाले गैंग चढा पुलिस के हत्थे, भारी मात्रा में बने-अधबने तमंचे बनाने के उपकरण बरामद बुढाना कोतवाली पुलिस को मिली बड़ी सफलता एसएसपी ने गेंग पकड़ने वाली टीम को 25 हज़ार रुपये का नकद इनाम दिया है।

आपको बता दे बुढाना कोतवाली के जौला गाँव मे पिछले लगभग 4 दशक से तमंचे बनाने का कार्य गाँव मे रहने वाले लुहार जाती के लोग करते थे ।धीरे-धीरे अवैध तमंचे बनाने का यह कार्य गाँव मे रहने वाले दबंग जाती के लोगो ने करना शुरू कर दिया अब यह इस गाँव का कुटीर उद्योग बन गया हैं ।

गाँव के ही लोग मुखबरी करके तमंचा फैक्टरी पकड़वाते हैं जिसके चलते अब यह तमंचा तस्कर पुलिस से बचने के लिए घने जंगल मे ईख के खेतों या ट्यूबवेल जहाँ बिजली का साधन हो यह तस्कर जंगल मे खेत के पास लगाए गए ट्यूबवेल के लिए बिजली के ट्रांफार्मर पर कटिया डालकर वेल्डिंग मशीन चलाते हैं। यह दिन में ही ज्यादातर तमंचे बनाते है क्योंकि वेल्डिंग मशीन की रोशनी रात में दूर तक जाती हैं ,रात में यह तमंचों को जोड़ने का काम करते है पुलिस के हाथ अवैध तमंचे बनाने वाले 9 तस्कर लगे हैं।

पुलिस ने मारे गए छापे में 42 तमंचा 315 बोर,02 तमंचा 12 बोर, 03 मस्कट 315 बोर,03 मस्कट 12 बोर,01 बन्दूक 12 बोर, 18 जिन्दा कारतूस 315 बोर,04 खोखा कारतूस 315 बोर,05 जिन्दा कारतूस 12 बोर,24 अधबने तमंचे,10 अधबनी बाडी,16 नाल 315 बोर,19 नाल 12 बोर,भारी मात्रा में शस्त्र बनाने के उपकरण- शिकंजा, बैट्री, ड्रील मशीन आदि भी बरामद की है। पकड़े गए शातिर अवैध असलाह तस्कर अभियुक्तगण शस्त्र बनाने के लिये कच्चा माल कैराना, मेरठ, खतौली, बुढाना, मु0नगर से खरीदकर अवैध रुप से फैक्ट्री चलाकर तमंचे तैयार करते हैं तथा लाभ कमाकर उन्हे आस-पास के जनपदों में एवं मुख्य रुप से हरियाणा सहित कई राज्यो में सप्लाई करते थे।एसएसपी अभिषेक यादव ने टीम को 25 हज़ार रुपये का नकद इनाम दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here