बड़े अस्पताल में डॉक्टरों की हड़ताल, मरीज हुए बेहाल,

149
संवाददाता की बातचीत मरीजों के साथ, डॉक्टरों के साथ

मुजफ्फरनगर: संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों की हड़ताल लगातार पांचवे दिन भी जारी रही। जिसके चलते कर्मचारियों की हड़ताल के कारण स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हो रही है अस्पतालों में स्टाफ की कमी हो जाने से परेशानी बढ़ गई है साथ ही धरने को संबोधित करते हुए संघ के उपाध्यक्ष और जिला अस्पताल में डॉक्टर सचिन जैन ने कहा कि सभी साथी अनुशासन के साथ धरना प्रदर्शन व हड़ताल कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मरीजों की परेशानी देख कर हमें भी अच्छा नहीं लगता लेकिन पिछले 4 साल से लगातार चल रही हमारी मांगों को पूरा नहीं किया गया है जबकि सर्वोच्च न्यायालय ने भी समान कार्य हेतु समान वेतन को लागू क्या हुआ है।

साथ ही अस्पताल में हो रही समस्याओं का सामना मरीजों को भी करना पड़ रहा है मरीजों का कहना है कि हम रोजाना सुबह आते हैं और शाम को चले जाते हैं अस्पताल में अधिकारियों से बात करने के बाद हमें कोई जवाब नहीं मिलता।

बता दें सूत्रों से यह भी पता चला है कि सोमवार तक अगर मांगे पूरी नहीं की गई तो पूरे अस्पताल में हड़ताल हो जाएगी और कोई भी छोटा बड़ा कार्य बिल्कुल बंद कर दिया जाएगा। पता चला है कि इमरजेंसी सेवाएं भी बंद कर दी जाएंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here