बिना डाक्टरों के चल रहा सरकारी अस्पताल इलाज कराने पहुंचे कावड़ीये बिना इलाज कराये लौटे

लन्ढौरा । कस्बे में सरकारी अस्पताल बिना डाक्टरों के चल रहा है लन्ढौरा में डाक कांवड जोरोंसोरों पर चल रही है रोड से सरकारी अस्पताल सेटा हुआ है जिससे कांवडयों को यात्रा के दौरान होने वाली कोई भी बीमारियों को सरकारी अस्पताल में इलाज करवा सके पर ।शुक्रवार को हरिद्वार जा रहे विपिन , अनुज , प्रीतम , गोपाल , आदि कावड़ीयों की अचानक तबियत खराब हो गई । बीमार कावड़ीयों को लोगों ने सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया पर सरकारी अस्पताल में एक भी डाक्टर नहीं मिला सका । जिसके बाद डाक्टर न मिलने से कावड़ीयों ने हंगामा शरू करना दिया। लोगों के समझाने के बाद बीमार कावड़ीयों को अन्य कावड़ीये किसी अन्य अस्पताल में ले गये ।कावड़ मेला में स्वास्थ्य विभाग कितना सक्रिय है इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है । कस्बे में बने एक मात्र सरकारी अस्पताल की हालत खस्ता बनी हुई है जिसमें एक मात्र वार्डबॉय ओर एक सफाई कर्मचारी के भरोसे चल रहा है अस्पताल । कावड़ मेला चल रहा है जिसमें कावड़ीयों की सुरक्षा के लिए सरकार लाखों रुपय खर्च कर रही है पर स्वास्थय विभाग कावड़ीयों के लिए एक सरकारी अस्पताल में डाक्टर तक नहीं मिल रहा है । हरिद्वार सीएमओ प्रेमलाल ने बताया है की अस्पताल में जल्द ही डाक्टरों को शिफ्ट किया जायेगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here