मुंबई में बारिश से अब तक 33 लोगों की मौत, 45 साल बाद हुई है इतनी बारिश

73

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में लगातार हो रही बारिश ने आम जनजीवन को बुरी तरह प्रभावित किया है। लगातार हो रही बारिश की वजह से मंगलवार को रत्नागिरी में तिवरे डैम टूट गया है। जिसमें 6 लोगों की मौत की खबर आ रही है, जबकि 20 लोगों के लापता होने की खबर है। बारिश से जुड़ने घटनाओं से राज्य में अब तक 33 लोगों ने अपनी जान गंवाई है।

NDRF और नौसेना की टीम लोगों में सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रहे है। लगातार बारिश की वजह से डैम का जलस्तर बढ़ गया था। रिपोर्ट के मुताबिक डैम से पानी निकलने की वजह से डैम के पास बने 12 घर पूरी तरह से बह गए।

कहा जा रहा है कि 1974 के बाद मुंबई में ऐसा दुसरी बार है जब इतनी बारिश हुई हो और चंद घंटों में ही मुंबई पानी-पानी हो गया हो। मंगलवार दोपहर तक 48 घंटों के दौरान मुंबई में 550 मिलीमीटर बरसात हुई है। दिल्ली में जितनी बारिश एक साल में होती है, उतनी मुंबई में पिछले चार दिनों में ही हो गई है। मुंबई में पिछले चार दिनों में 794.8 मिलीमीटर बारिश हुई है जबकि दिल्ली में पूरे साल में 762.3 मिलीमीटर बारिश होती है।

निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट ने कहा कि मुंबई में तीन और पांच जुलाई के बीच बाढ़ आने का गंभीर खतरा है। उसने कहा, ‘इस दौरान हर दिन 200 मिलीमीटर या उससे अधिक बारिश हो सकती है जिससे सामान्य जन जीवन बाधित हो सकता है।’

बता दें, इससे पहले मंगलवार सुबह भारी बारिश के बाद मलाड के कुरार इलाके में दीवार गिरने से हुए हादसे में मरने वालों की तादाद 23 पहुंच चुकी है। वहीं, 60 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं। घायलों का जोगेश्वरी के ट्रॉमा केयर हॉस्पिटल, केईएम हॉस्पिटल, कांदीवली के शताब्दी हॉस्पिटल, मलाड के एमडब्ल्यू देसाई हॉस्पिटल और अंधेरी के कूपर अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। वहीं, कल्याण में बारिश के बाद दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here