मेरठ को सता रहा डेंगू का डंक, मरीजों की खोज जारी

मेरठ। कोरोना के बाद इस साल डेंगू का डंक मेरठ के लोगों को सता रहा है। मेरठ जनपद में डेंगू रोगियों की संख्या बढ़कर लगभग एक हजार तक पहुंच गई है। डेंगू के मरीजों और लार्वा की खोज में स्वास्थ्य विभाग लगा हुआ है।

मेरठ जनपद में डेंगू के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। डेंगू की रोकथाम के लिेेए मलेरिया विभाग लगातार कार्य कर रहा है। मेरठ में अब तक 949 डेंगू मरीज मिल चुके हैं। इनमें से 160 मरीजों का घर पर इलाज चल रहा है और 91 मरीज अस्पताल में है। डेंगू के लार्वा की खोज के लिए मलेरिया विभाग की टीम लगातार कार्य कर रही है। इसके साथ ही बुखार के मरीजों के बीच से डेंगू मरीजों की खोज भी हो रही है।

डेंगू लार्वा की खोज हो रही

जिला मलेरिया अधिकारी सत्यप्रकाश का कहना हे कि शहर के विभिन्न हिस्सों में उनके विभाग की टीमें घर-घर जाकर डेंगू लार्वा की खोज में जुटी है। डेंगू रोगियों के घरों में एंटी लार्वा स्प्रे का छिड़काव किया जा रहा है। इसके साथ ही इलाकों में फॉगिंग कराई जा रही है।

सर्दी बढ़ेंगे डेंगू मरीज

वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. विश्वजीत बैंबी का कहना है कि वातावरण में सर्दी बढ़ने पर डेंगू मरीजों की संख्या कम होती जाएगी। अभी अस्पतालों में बुखार के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। लोगों को सतर्क रहना चाहिए। थोड़ी सी सर्दी बढ़ने पर पूरी बाजू के कपड़े पहनने चाहिए। रात्रि में पंखे के इस्तेमाल से बचें। ठंडा पानी पीने से बचाव करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here