यूपी में बीजेपी को हराने के लिए राहुल को अपनी हार भी मंजूर है

94

आम चुनाव 2019 में अगर किसी राज्य पर लोगों की सबसे ज्यादा नज़र है तो वह है उत्तर प्रदेश। राज्य के 80 सीट एक तरफा दिल्ली की सियासत तय करती है। इसलिए यहां बीजेपी, कांग्रेस और सपा-बसपा गठबंधन के बीच चुनाव दिलचस्प हो गया है।

सपा-बसपा गठबंधन जहां राज्य से बीजेपी को खदेड़ने का दावा कर रही है वहीं कांग्रेस यूपी में बीजेपी को हराने के लिए अपनी हार भी मंजूर कर रही है।

दरअसल, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एनबीटी के पॉलीटिकल एडिटर नदीम से बात करते हुए महागठबंधन के साथ अपने रिश्तों को लेकर कहा कि, हम तो यूपी में भी गठबंधन चाहते थे लेकिन वे लोग ही तैयार नहीं हुए। हमें चुनाव तो लड़ना ही है लेकिन हमने प्रियंका से कहा है कि यूपी में जहां भी कांग्रेस के उम्मीदवार कमजोर हैं, वहां एसपी-बीएसपी उम्मीदवारों को नुकसान नहीं होना चाहिए। हमारा लक्ष्य बीजेपी को हराना है। जहां भी और जिस भी तरीके से बीजेपी को हराना होगा, हम हराएंगे।

उन्होंने प्रियंका के मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़ने की संभावना पर राहुल ने कहा कि इस बारे में पार्टी का फैसला हो चुका है, लेकिन फैसला क्या हुआ, इस पर हम अभी सस्पेंस बनाकर रखना चाहते हैं।

‘चौकीदार चोर है’ नारे को लेकर राहुल ने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट का बहुत सम्मान करते हैं, हम उसे लेकर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे लेकिन वह नारा लोगों के दिल में घर कर चुका है। हमने जो नारा दिया है, उसमें सचाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here