विंग कमांडर अभिनंदन के आखिर 60 घंटे कैसे गुजरे? जाने पूरी कहानी हमारे साथ

324

पाक ने भारत की वायु सीमा का उल्लंघन करते हुए कश्मीर के राजौरी तक अपने लड़ाकू विमान भेजे लेकिन भारतीय वायु सेना पहले से पूरी तरह तैयार थी। भारत के जिन जांबाजों ने पाक की वायु सेना का करार जवाब दिया उनमें से एक विंग कमांडर अभिनंदन भी थे। उन्होंने अपने मिग-21 से न सिर्फ पाक के जंगी विमान एफ-16 से लोहा लिया बल्कि उसे ढेर भी कर दिया। मगर, इस लड़ाई में उनका विमान दुर्घटनाग्रस्त होकर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के भीतर भीमबेर जिले के होरान गांव में जाकर गिर गया। पाकिस्तानी अखबार डॉन की माने तो ये सुबह करीब 8.45 का वक्त था। इसके बाद शुरू हुआ दुश्मन देश पाकिस्तान का घिनोना खेल। विंग कमांडर अभिनंदन के कुछ वीडियो और तस्वीरें सोशल मीडिया के जरिए सबके सामने आए। इनमें से कुछ वीडियो में उनके साथ मारपीट की पहचान भी हुई।

फिर बुधवार करीब दोपहर 3:15 पर भारत के विदेश मंत्रालय ने एक प्रेस कॉन्फ्रेन्स कर एक पायलट के ‘मिसिंग इन एक्शन’ यानी लड़ाई के दौरान गायब हो जाने की बात कहते हुए बताया कि हमने पाकिस्तान का एक एफ-16 विमान भी मार गिराया है।

मगर आपको बता दें बुधवार शाम को ही कमांडर अभिनंदन का एक और वीडियो सबके सामने आया जिसमें वो पाकिस्तानी सेना के कब्जे में हँसी ख़ुशी चाय पीते दिख रहे हैं। ये वीडियो कमांडर अभिनंदन के हिम्मत और हौसले की मिसाल भी बन गया जिसमें वो बिना किसी शिकन या डर के पाकिस्तानी अफसरों के सवालों का बेबाक़ी से जवाब देते दिखाई दिए। जिस सवाल का जवाब उन्हें लगा नहीं देना है, उन्होंने उस सवाल के लिए साफ़ साफ़ इंकार कर दिया।

मगर शाम होते-होते जब ये पूरी तरह से बिलकुल साफ हो गया कि विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तान की सेना के कब्जे में है तो भारत की ओर से सख्त लहजे में पाक से कहा गया कि वो जल्द से जल्द कमांडर अभिनंदन भारत को लौटाएं और फिर करीब रात होते-होते, अभिनंदन की वापसी के लिए भारत हर कूटनीतिक दरवाजे को खोल चुका था। 

फिर गुरुवार की सुबह करीब 9 बजे यह खबर आई कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो से फोन पर बातचीत की है। पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग ने पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय को आपत्ति पत्र (डिमार्शे) सौंपकर कमांडर अभिनंदन वर्तमान की तुरंत रिहाई की मांग की।

फिर दोपहर करीब 12 बजे पता लगा कि पाक अभिनंदन को लेकर कुछ ब्लैकमेलिंग का मूड बना रहा है। पाक के रक्षामंत्री ने कहा कि भारत देश अपना पायलट ले और हमारे साथ बातचीत शुरू करे।

फिर ख़बर आयी के अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि भारत पाकिस्तान को लेकर कोई अच्छी खबर सामने आने वाली है। इसमें हो सकता है, भारत देश का कूटनीतिक दबाव काम करने लगा था।

फिर पाक के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने जियो टीवी से बात करते हुए कहा कि इमरान खान इस मुद्दे पर PM नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के लिए तैयार हैं।

भारत ने कॉन्सुलर एक्सेस की जगह कमांडर अभिनंदन की तुरंत रिहाई की मांग पर ज़ोर डाला और दोहराया कि कमांडर अभिनंदन को खरोंच भी आई तो भारत की और से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

फिर शाम करीब 4.30 बजे- पाक ने आखिरकार कह ही दिया कि वो भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को छोड़ने को तैयार है और भारत को सुरक्षित लौटाने को तैयार है। इस बात का एलान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद पाक संसद के भीतर सभी मंत्रियो की मौजूदगी में किया।

फिर गुरुवार शाम करीब 7 बजे भारतीय तीनों सेनाओं ने एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेन्स करते हुए पाकिस्तान के हरेक झूठ का पर्दाफाश किया। वायु सेना ने बताया भी बल्कि बाकायदा सबूत भी पेश करके बताया कि हमने किस तरह पाकिस्तान के एफ-16 विमान को ढेर करने में कामयाबी प्राप्त की। साथ ही हमें लक्ष्य भेदने में भी सफलता मिली। 

फिर शुक्रवार सुबह एक बार फिर पाक देश ने नोटंकी शुरू कर दी। पहले तय हुआ कि कमांडर अभिनंदन को वाघा बॉर्डर पर दोपहर 2 बजे सौंपा दिया जाएगा। लेकिन फिर खबर या आई कि पाक, उन्हें शाम को बीटिंग रिट्रीट के दौरान सौंपना चाहता है। 

मगर भारत ने पाक को सीधे सीधे शब्दों में ये संदेश भिजवाया कि पायलट अभिनंदन को बीटिंग रिट्रीट से पहले ही भारत को सौंप दिया जाए। इसके लिए वायु सेना के शीर्ष अधिकारियों का एक दल भी वाघा पहुंचा। इसके अलावा चेन्नई से अभिनंदन का परिवार और रिश्तेदार भी वाघा पहुंच गये। 

फिर पूरा दिन वाघा बॉर्डर पर गहमा-गहमी बनी रही और एक बड़ा फैसला लेते हुए भारत ने अपनी तरफ की बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी रद्द करने का फ़ैसला किया। 

लेकिन पड़ोसी देश पाक ने अपनी तरफ की सेरेमनी को रद्द नहीं की। इसी बीच तभी एक खबर ये भी आई कि पाक की अदालत में कमांडर अभिनंदन को भारत को वापस सौंपने के खिलाफ अर्जी भी दाखिल हो गई है। कुछ पल के लिए भारत वाशियों की सांसें ठहर गईं, और दिल थम से गए। मगर देखते देखते कुछ ही देर में तस्वीर साफ हो गई इस राहत भरी खबर के साथ कि पाक अदालत ने भी इमरान खान की तरह शांति पसंद करते हुए इस अर्जी को खारिज कर दिया है। 

आखिरकार,करीब पूरे 60 घंटे तक पाक की जमीं पर रहने के बाद भी पुरे जोश, पुरे जज्बे, जांबाजी और जिंदादिली की मिसाल आज विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान ने दी और स्वदेस भारत की जमीं पर अपने फौलादी कदम रखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here