सीबीआई ने उत्तराखंड, यूपी में पूर्व वीसी से जुड़े 14 परिसरों की ली तलाशी

नई दिल्ली। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को कहा कि उसने उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में एचएनबी गढ़वाल विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति (वीसी) जे. एल. कौल, उनके ओएसडी और अन्य के 14 आवासीय और आधिकारिक परिसरों की तलाशी ली। एजेंसी ने बताया कि उनके कार्यकाल के दौरान विभिन्न कॉलेजों या संस्थानों को संबद्धता प्रदान करने में कथित अनियमितताओं की जांच के सिलसिले में दर्ज एक मामले के संबंध में यह तलाशी ली गई।

सीबीआई के एक प्रवक्ता ने कहा कि एजेंसी ने उत्तराखंड के श्रीनगर और देहरादून और उत्तर प्रदेश के नोएडा में कौल, उनके ओएसडी और अन्य से जुड़े आवासीय और आधिकारिक परिसरों की तलाशी ली।

अधिकारी ने बताया कि एजेंसी को अलग-अलग बैंकों में तीन लॉकरों का ब्योरा भी मिला है।

तलाशी के दौरान मामले से जुड़े कई आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए गए हैं।

सीबीआई ने पहले हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर के तत्कालीन कुलपति कौल, उत्तराखंड में पौड़ी गढ़वाल और अन्य के खिलाफ प्रारंभिक जांच दर्ज की थी। जांच उस आरोप में शुरू की गई थी कि कुलपति व उनके सहयोगियों ने 2014 से 2016 तक अपने कार्यकाल के दौरान विभिन्न कॉलेज या संस्थानों को संबद्धता प्रदान करने में कुछ अनियमितताएं कीं।

यह भी आरोप लगाया गया कि कौल ने अपने ओएसडी और विश्वविद्यालय के अन्य अज्ञात अधिकारियों के साथ, कॉलेजों की मौजूदा संबद्धता को जारी रखने और या विस्तार करने के लिए दिशानिदेशरें और विनियमों का उल्लंघन किया। आरोप है कि उन्होंने विभिन्न निजी संस्थानों या कॉलेजों की संबद्धता के विस्तार को लेकर नियमों के अनुसार कार्य नहीं किया।

अधिकारी ने बताया कि प्राथमिक जांच पूरी होने के बाद सीबीआई ने कौल, उनके ओएसडी, अन्य सरकारी कर्मचारियों, निजी व्यक्तियों और छह निजी संस्थानों के खिलाफ छह रेगुलर एफआईआर दर्ज की हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here