13 साल पुराने मामले में पुलिस अधिकारी कोर्ट में हाजिर!

78

13 साल पुराने मामले में पुलिस अधिकारी कोर्ट में हाजिर

जनपद मुजफ्फरनगर में थाना चरथावल क्षेत्र के गांव लुहारी खुर्द में 13 साल पहले हुए बहुचर्चित अख्तर पुत्र अल्लाह रखा हत्याकांड मामले में गवाही के लिए यूपी पुलिस के मुजफ्फरनगर के तत्कालीन एसपी सिटी  व वर्तमान में डीआईजी के पद से सेवानिवृत्त डीके चौधरी ने कोर्ट पहुंचकर अपनी गवाही दर्ज कराई जिसमें उन्होंने कोर्ट में स्वीकार किया कि गांव लुहारी खुर्द में एक मोटर चोर को  पकड़ा गया था उनके द्वारा गांव में शांति व्यवस्था के लिए फोर्स भेजी गई थी जिसमें मोटर चोर के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया था बाद में उसकी मृत्यु हो गई थी

 दरअसल मामला जनपद मुजफ्फरनगर के थाना चरथावल क्षेत्र के गांव लुहारी खुर्द का है जहां किसानों की ट्यूबवेल से मोटर चोरी की घटनाएं हो रही थी जिसमें अख्तर पुत्र अल्लाह रखा पर मोटर चोरी को लेकर चरथावल थाने में मुकदमा दर्ज था जिसमें ग्रामीणों द्वारा मोटर चोरी के आरोपी अख्तर पुत्र अल्लाह रखा को पकड़ लिया गया जिसमें मामले की जानकारी पुलिस को हुई तो मुजफ्फरनगर के तत्कालीन एएसपी सिटी डीके चौधरी जो वर्तमान में यूपी पुलिस में डीआईजी के पद से सेवानिवृत्त हो चुके है ने फोर्स गठित कर गांव में भेजी जहां से ग्रामीणों ने पकड़े गए मोटर चोरी के आरोपी अख्तर पुत्र अल्लाह रखा को पुलिस के हवाले कर दिया था जिसमें बाद में उसकी मृत्यु हो गई थी इस मामले में पुलिस द्वारा 18 ग्रामीणों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था जिसमें एक ग्रामीण नवेद पुत्र मुस्तकीम का नाम पुलिस द्वारा जांच के उपरांत मुकदमे से हटा दिया गया था जिसमें 17 ग्रामीणों को जेल जाना पड़ा था इस घटनाक्रम को लगभग 13 साल बीत चुके हैं  और तभी से मामला कोर्ट में विचाराधीन है सभी आरोपी जमानत पर रिहा भी है एडीजे कोर्ट 13 द्वारा सुनवाई के लिए आज फिर सभी आरोपियों को बुलवाया गया था जिसमें गवाही के लिए मुजफ्फरनगर के तत्कालीन एसपी सिटी डीके चौधरी को भी बुलवाया गया था इस घटनाक्रम में तत्कालीन एसपी सिटी मुजफ्फरनगर डीके चौधरी के बयान दर्ज किए गए हैं 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here