बिहार में आसमानी बिजली गिरने से 83 लोगों की मौत

158

पटना। पिछले 24 घंटे में तेज आंधी-तूफान (thunderstorms) और आसमानी बिजली ने बिहार (bihar)राज्य में पलभर में 83 लोगों की मौत हो गई. बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने यह जानकारी साझा की है। बिहार के गोपालगंज (gopalganj)में 13, मधुबनी, पूर्वी चंपारण, बेतिया और पश्चिमी चंपारण में दो- दो लोगों की, पूर्णिया और बांका में एक- एक की मौत की खबर आई है. पीएम मोदी ने भी बिहार में बिजली से मरने वाले 83 लोगों की मौत पर उनके परिवार के प्रति शोक व्यक्त किया हैं.

इसी के साथ ही सीएम नीतिश कुमार (Nitish Kumar)ने सभी बिजली से मरने वालों के परिवार वालों को 4-4 लाख रूपये के मुआवजे का ऐलान कर दिया है। इस दर्दनाक हादसे में दर्जनों लोगों के झुलसने की बात सामने आई है। गोपालगंज जिले में गुरुवार की सुबह तड़के से हो रही बारिश के बीच आसमानी बिजली से 13 लोगों की मौत हो गई है। बिजली से उचकागांव में चार, मांझा में दो और विजयीपुर, कटेया एवं बरौली में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई। जान गंवाने वाले अधिकतर लोग खेत में धान की रोपाई कर रहे थे।

बरौली और मांझा में आसमानी बिजली से झुलसकर घायल हुए चार लोगों को इलाज के लिए जिले के चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है, जहां पर उनका इलाज किया जा रहा है. पुलिस ने सभी डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, उत्तरी बिहार में भी आकाशीय बिजली गिरने से चार लोगों की मौत हो गई है।

पूर्वी चंपारण में बिजली गिरने से नाबालिग बच्ची सहित दो लोगों की मौत हुई है। पश्चिमी चंपारण के शिकारपुर में विशुनपुरवा और मालदा में भी दो लोगों की बिजली गिरने से मौत हो गई। मधुबनी के घोघरडीहा में बिजली गिरने से पति-पत्नी की मौत की मौके पर ही मौत हो गई। इसके अलावा बेतिया जिले के शिकारपुर थाना के भसुरारी पंचायत में बिजली ने दो लोगों की जान ले ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here