पुणे की एक मस्जिद को कोरोना मरीजों के लिए बनाया गया क्वारंटाइन सेंटर, सोशल मीडिया पर हो रही है खूब तारीफ़!

58

महाराष्ट्र: जहाँ देश भर में कोरोना संक्रमण मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। आपको बता दें पूरे देश में लॉकडाउन चालू है और इस लॉक डाउन के चलते देश में मुस्लिमों की मस्जिदें भी बंद है जिनको अब लोगों ने क्वारंटाइन सेंटर बनाना शुरू कर दिया है। आपको बता दें महाराष्ट्र में कोरोनावायरस covid-19 के मरीजों की संख्या सबसे अधिक हैं और इसी बीच यह भी खबर आई है कि महाराष्ट्र के पुणे में आज़म कैंपस शैक्षणिक संस्थान (AZAM Campus Educational Institute) के अंदर स्थित मस्जिद को कोरोना covid19 संक्रमित लोगों के लिए क्वारंटाइन सेंटर में बदल दिया गया है।

आपको बता दें इस मस्ज़िद में बने इस क्वारंटाइन सेंटर के अंदर रहने वाले कोरोना संक्रमित लोगों के लिए खाने से लेकर रहने व पढ़ने के लिए किताबों की व्यवस्था मस्जिद की तरफ से ही की गई है। महाराष्ट्र कॉस्मोपॉलिटन एंड एजुकेशन सोसाइटी के अध्यक्ष PA पीए इनामदार कहते हैं, “इस समय राष्ट्र की मदद करना हमारा कर्तव्य है।”

इसके अलावा आज़म परिसर के जेड वी एम (ZVM) यूनानी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के साथ 25 डॉक्टर पहले से ही सरकारी अस्पतालों के साथ काम कर रहे हैं। सेवा के लिए अस्पताल की 5 ऐंबुलेंस भी उपलब्ध कराई गई हैं।

आपको बता दें कि आज़म परिसर के अंदर बहुत सारी जगह है और लॉकडाउन के बाद से जैसे देश भर के सभी शिक्षणिक संस्थानों में पढ़ाई बंद है इसी तरह से आज़म कैंपस शैक्षणिक संस्थान में भी पढ़ाई बंद है और पूरा कैंपस खाली है। ऐसे महामारी के वक़्त नाज़ुक हालातों में लोगों की मदद के लिए कैंपस काम आ सके इससे अच्छी बात और क्या होगी।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार, प्रशासन ने यहां क्वारंटाइन सेंटर बनाए जाने को लेकर समीक्षा की और उसके बाद वे राजी हो गए। इस मस्जिद के अंदर क़रीब 9,000 वर्ग फुट के इस हॉल में एक साथ क़रीब 80 लोगों को क्वारंटाइन किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here