….यहां छिपा बैठा था शरजील इमाम! दिल्ली पुलिस ने धरदबोचा…राजद्रोह का केस दर्ज

32

जेएनयू का पी.एच.डी का छात्र शरजील इमाम को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया है. लगभग पिछले
48 घंटों से असम, दिल्ली,यूपी, अरूणाचल प्रदेश और मणिपुर पांच राज्यों की पुलिस इमाम को तलाश रही थी। पुलिस ने शरजील के कुछ रिश्तेदारों को भी हिरासत में लिया था।

दरअसल,16 जनवरी को अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में सीसीए कानून के विरोध में चल रहे प्रदर्शन के दौरान विवादित बयान सामने आया था,जिसमें राजद्रोह का आरोपी इमान ने कहा था कि ‘ हम असम राज्य को भारत से अलग करना चाहते हैं, इसके लिए हमें पांच लाख लोग की जरूरत है। जिसके बाद सोशल मीडिया पर विवादित बयान का वीडियो वायरल हो गया.

बिहार के डायरेक्टर जनरल पुलिस ने बताया है कि”शरजील इमाम को पैतृक गांव कको जहानाबाद से गिरफ्तार किया गया. शरजील इमाम को बिहार कोर्ट में पेश करने से पहले
पुलिस आरोपी से पूछताछ के लिए रिमांड की मांग करेंगी. अभी तक ये साफ नहीं हुआ है कि आरोपी शरजील से बिहार में रखा जाएगा या दिल्ली लेकर जाएंगे. वहीं दूसरी ओर इमान ने ट्विटर पर लिखा है कि मैं तैयार हूं, दिल्ली पुलिस को सरेंडर करने के लिए और जांच में सहयोग करना चाहता हूं. मैं कानून में यकीन रखता हूं. मेरी सुरक्षा दिल्ली पुलिस के हाथ में हैं।

शरजील इमाम की गिरफ्तार के बाद बिहारी के सीएम नीतिश कुमार ने कहा कि विरोध- प्रदर्शन करना अलग बात है, कोई भी देश को तोड़ नहीं सकता. जो लोग गलत कर रहे है उन पर पुलिस को कानून के मुताबिक कार्रवाई करनी चाहिए.

पुलिस ने शरजील इमाम पर राजद्रोह के मामले में केस दर्ज कर लिया है. दिल्ली की चुनावी सभा में शरजील को लेकर बयानबाजी को दौर शुरु हो गया। गृह मंत्री अमित शाह चुनावी रैलियों में लगातार सीएम केजरीवाल पर हमला बोल रहे है। दिल्ली विधानसभा चुनाव में शरजील इमाम के बयान को लेकर सियासी पलटवार का दौर शुरू हो गया। वहीं, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि
‘गृह मंत्रालय को शरजील इमाम को गिरफ्तार कर और कार्रवाई करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here