पूर्व अधिकारी प्रीता हरित दलितों की हक की लड़ाई लड़ेंगी, बोली” हर दलित बच्चे को मिले शिक्षा

मुज़फ्फरनगर सिविल सर्विस छोड़कर समाज सेवा को निकली आईआरएस अधिकारी रही प्रीता हरित ने आज भोपा थाना क्षेत्र के गाँव गादला पहुचकर रविदास मंदिर पर दलित समाज के सैकड़ों महिलाओं और पुरषो को सम्बोधित करते हुए कहा कि राजनीतिक पार्टियां दलित समाज को वोट बैंक के रूप में इस्तमाल करके छोड़ देती हैं।

समाज को अपने बच्चों को हाई एजुकेशन के साथ मान सम्मान के साथ ही आत्म सम्मान की लड़ाई लड़ने के लिए संघर्ष करना पड़ेगा । इससे पूर्व उन्होंने बाबा भीमराव अंबेडकर के चित्र पर पुष्पांजलि करते हुए भारत बंद के दौरान शहीद हुए दलित युवक अमरेश के परिजनों को कानूनी रूप से लड़ाई लड़कर न्याय दिलाने का आश्वाशन दिया। यहाँ पहुँचने पर ग्रामीणों ने उनका फुलमालाओ से जोरदार स्वागत किया।

लम्बे समय तक सिविल सर्विस में आईआरएस अधिकारी रही प्रीता हरित ने मुज़फ्फरनगर के गादला ,शुक्रताल , अल्मासपुर भोपा रॉड सहित कई गांवों का तूफानी दौरा किया इस दौरान उन्होंने दलित समाज के लोगो को एक जुट होने के साथ ही बाबा साहब द्वारा सँविधान में दिए गए अधिकार का जितना फायदा उठाना चाहिए था वह नही उठा पाए देश के सभी राज्यो में दलित समाज काफी पिछड़ा हुआ हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here