CAA प्रदर्शन में नूर की हुई थी मौत,जमियत ने आगे आकर 1 लाख रु की मदद

मुज़फ्फरनगर। 20 दिसम्बर को सीसीए कानून के दौरान हिंसा में मुजफ्फरनगर निवासी नूरा की मौत हो गई थी. जिसके बाद जिले में राजनेताओं का मृतक के घर तांता लग गया . इसी बीच जमीयत उलेमा ए हिन्द का प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रीय महासचिव मौलाना हकीमुद्दीन कासमी की अगुवाई में पीड़ित परिवार को मिलकर 1 लाख रुपये की मदद की.

जमियत के महासचिव ने बताया कि नागरिकता संशोधन बिल देश के संविधान के साथ खिलवाड़ है,ये बिल देश के नफरत फैला रहा है. देश को बांटने वाला है,जिस तरह देश की अमन पसंद अवाम ने इस देश की गंगा जमनी तहजीब को बनाए रखा है।आज देश की अवाम इस बिल के खिलाफ है,

बात दें कि, मुजफ्फनगर हिंसा में 107 लोगों को गिरफ्तार किया गया. जिसमें 19 लोगों को जमानत मंजूर हो गई. जमियत ने कहा हिंसा में घायल हुए लोगों को लिए एक पैनल का गठन किया गया. हिंसा में घायल लोगों को आर्थिक मदद दी जाएगी. इस मौके पर जमीयत उलेमा ए हिन्द से जुड़े समस्त कार्यकर्ता व पदाधिकारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here