(Loan) लोन लेकर भागने वाले माल्या को बड़ा झटका, 1000 करोड़ रुपये के शेयर (share) बेचने को कोर्ट की मंजूरी

भगोड़े विजय माल्या को बड़ा झटका लगा है प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) अदालत ने  विजय माल्या के 1,000 करोड़ रुपए की वैल्यू के शेयर बेचने की मंजूरी दे दी है आपको बता दें कि यूनाइटेड ब्रेवरेज (यूबीएल) में माल्या के शेयर हैं जो कोर्ट द्वारा नियुक्त लिक्विडेटर द्वारा बेचे जाने थे इसकी बिक्री को रोकने के लिए  विजय माल्या ने याचिका दायर की थी जिस याचिका को अदालत ने ख़ारिज कर दिया है।

आपको बता दें यूनाइटेड ब्रेवरेज का शेयर बीएसई पर फिलहाल (11:45 AM बजे) 1% बढ़त के साथ 1370 रुपए के भाव पर पहुंच गया है  इसी महीने कर्ज वसूली प्राधिकरण ने शेयर कोर्ट द्वारा नियुक्त लिक्विडेटर को ट्रांसफर किए थे विजय माल्या के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शेयर अटैच किए थे

यूनाइटेड ब्रेवरेज होल्डिंग्स की याचिका पर सुनवाई करते जज ने यह कहा कि शेयर बिक्री पर रोक लगाने का आदेश नहीं दिया जा सकता है और प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) कोर्ट ने उनके 1,000 करोड़ रुपये की कीमतों के शेयरों को बेचने की मंजूरी दे दी है
आपको बता दें विजय माल्या की जब्त संपत्तियों में से बिक्री का यह पहला मामला है कर्ज़ वसूली प्राधिकरण की बेंगलुरु बेंच ने 11 मार्च को माल्या के शेयर बेचने का नोटिस जारी किया था. आपको बता दें विजय माल्या की किंगफिशर एयरलाइंस को दिए गए 6,203.35 करोड़ रुपए के लोन की रिकवरी के लिए ऐसा किया जा रहा है ब्याज और पेनल्टी मिलाकर विजय माल्या पर बैंकों के कुल 9,000 करोड़ रुपए बकाया हैं आपको यह भी बता दें कि विजय माल्या 2016 के मार्च में देश से फरार हो गए थे और फिर माल्या को भगोड़ा साबित कर दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here