मस्जिदों में नमाज अदा करने के लिए लोगों को माननी होंगी ये शर्तें, एडवायजरी जारी

88

नई दिल्ली: मुसलमानों के लिए भारत के इस्लामिक सेंटर लखनऊ ने एडवायजरी जारी की है जिसमें कुछ निर्देशों के साथ मस्जिदों को 8 जून से खोलने के निर्देश दिए गए हैं. मस्जिदों में इबादत करने आने वालों को इन दिशा- निर्देशों का पालन करना होगा.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो केंद्र सरकार ने 8 जून से धार्मिक स्थलों को खोलने की इजाजत देदी है. ऐसे में मुसलमानों की संस्था इस्लामिक सेंटर ने एडवायजरी जारी कर कहा है कि 10 साल से कम उम्र के बच्चे और 65 से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को मस्जिद में आने से बचना चाहिए. एडवायजरी में कहा गया है कि अगर मस्जिद में नमाज अदा करनी है तो कुछ शर्ते माननी होगी.
ये शर्तें इस प्रकार हैं-

मस्जिद में किसी समय भीड़ ना जमा होने दें.मस्जिद में सिर्फ फर्ज नमाज को प्राथमिकता दें.सुन्नत और नफिल नमाजें घर पर ही अदा करें.हर मस्जिद में 4 जमाअतें 15-15 मिनट के अंतराल से हों.जुमे की नमाज के लिए भी 4 जमाअतों का ध्यान रखा जाए.जुमे का खुतबा छोटा दिया जाए और उर्दू में तकरीर ना की जाए.

 वुजू घर से ही करके नमाजियों को मस्जिद जाना चाहिए.मस्जिद में नमाज अदा करनेवालों को मास्क लगाना चाहिए.नमाज में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा-पूरा ख्याल रखा जाए.

मस्जिद की कालीन और चटाइयों को हटा दिया जाए.हर नमाज से पहले फर्श को फिनायल या डिटॉल से साफ किया जाए.मस्जिद में रखी हुई टोपियों के बजाए खुद की टोपी पहन कर जाएं.मस्जिद में दाखिल या निकलते समय भीड़ इकट्ठी ना होने दिया जाए.गले मिलने या हाथ मिलाने से परहेज करने का भी ख्याल रखा जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here