शमशेर मलिक के कामो ने लोगो को बनाया कायल, इंसानों के साथ-साथ बेजुबाँ जानवरों का भी रखते हैं ख़्याल!

342

मुज़फ्फरनगर: इस महामारी में गरीब, दिहाड़ी मज़दूरो के लिए कोरोना (Corona) से बड़ा खतरा भुखमरी वायरस का मंडराता नज़र आ रहा है। सरकारी लाभ नाम मात्र मिल रहा है। जरूरतमंदों के लिए कोई पैकेज की घोषणा नही की गई है। समाज के लोग ही एक दूसरे की मदद में लगे है, इस वक्त में बहुत लोग ऐसे है जो खुद की ही नही बल्कि अपने साथ साथ अपने नगर, कस्बा, क्षेत्रवासियों की भी चिंता मुसलसल कर रहे है। जो बड़ी तादाद में अपने अपने स्तर से लोगो तक राशन सामग्री पहुंचा रहे है।

यह भी पढ़ें: ज़रूरतमंद तक राशन पहुँचाना हम सबकी जिम्मेदारी: शमशेर मलिक

यू तो जिले में कई हस्तियां इस काम को अंजाम दे रही है, जिनमे से एक समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष शमशेर मलिक भी है। गौर किया जाए तो शमशेर मलिक लोकड़ाऊन के तुरंत बाद से ही लगातार जरूरतमंदों की खिदमत में लगे हुए है। यही वजह है कि उनकी मेहनत और हमदर्दी ने लोगो को उनका कायल बना दिया है।

यही नही शमशेर मलिक (Shamsher Malik) जरूरतमंदों के के साथ साथ आवारा जानवरो का भी खास ख्याल रख रहे है। गाय, बछड़े, कुत्ते आदि जानवरो को चारा और खाना खिलाते भी देखे जा चुके है।

दरअसल सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश के बाद से ही शमशेर मलिक ने इस काम की शुरुआत कर दी थी। जनपद में वो समाजवादी पार्टी में इस नेक काम की पहल करने वाले पहले नेता है। वो लोकडाउन के नियमो का ख्याल करते हुए शेरपुर के अलावा आसपास के क्षेत्रों में भी लगातार जरूरतमंदों तक राशन किट पहुंचा रहे है।

शमशेर मलिक का कहना है की प्रशासन पूरी मेहनत के साथ लॉक डाउन को सफल बनाने व कोरोना को हराने में लगा हुआ है इसलिए हम सबको भी अपने पास पड़ौस के ज़रूरतमंद परिवारो व बेज़ुबान जानवरों का ख्याल रखना चाहिए। क्यूँकि हर जरूरतमंद की जानकारी प्रशासन को भी नही मिल पाती है इसलिए समाज के जागरूक आदमी का फ़र्ज़ है की वो मानवता के नाते ज़रूरत मंद परिवारों व बेज़ुबान जानवरों का ख्याल रखें। जनहित व देशहित में लॉक डाउन का पालन करें और अगर किसी ज़्यादा ईमरजेंसी में घर से बाहर जाना पड़े तो मास्क का इस्तेमाल ज़रूर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here